Home मानव हित जरूरी सूचना: निपटा लें बैंकों का काम, दो दिनों तक रहेगी हड़ताल

जरूरी सूचना: निपटा लें बैंकों का काम, दो दिनों तक रहेगी हड़ताल

बैंक हड़ताल
Image Courtesy: Prabhat Khabar

बैंको में बचे सारे काम जल्द से जल्द निपटा लें क्योंकि बैंको को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। बैंक कर्मचारियों के नौ संगठनों का शीर्ष निकाय यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स (UFBU) ने ऐलान किया है कि वह आने वाले मार्च के महीने में दो दिनों के लिए हड़ताल पर रहेंगे। हड़ताल के साथ ही बैंक चार दिन के लिए बंद रहेंगे। 13 मार्च को महीने के दूसरा शनिवार है जबकि 14 मार्च को रविवार है। फोरम ने 15 मार्च और 16 मार्च को हड़ताल का आह्वान किया है। मतलब सोमवार और मंगलवार को भी बैंक बंद रहेंगे।

ऑल इंडिया बैंक एम्प्लॉयज एसोसएिशन (AIBEA) के महासचिव सी एच वेंकटचलम ने बताया कि मंगलवार को हुई बैठक में बैंकों के निजीकरण पर सरकार के निर्णय का विरोध करने का फैसला किया गया। बैठक में केंद्र सरकार के बजट में सुधारों को लेकर की गयी विभिन्न घोषणाओं पर चर्चा हुई। इसमें आईडीबीआई बैंक और सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों का निजीकरण, एलआईसी में विनिवेश, एक साधारण बीमा कंपनी का निजीकरण, बीमा क्षेत्र में 74 प्रतिशत तक एफडीआई की मंजूरी और सार्वजनिक उपक्रमों में हिस्सेदारी बिक्री आदि शामिल है।

बैंकों के हड़ताल की सबसे बड़ी वजह सरकार द्वारा उनका निजीकरण है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले हफ्ते बजट पास किया था। उन्होंने अपने बजट भाषण में विनिवेश कार्यक्रम के तहत सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों के प्राइवेटाइजेशन का ऐलान किया था। इसी के विरोध में बैंक यूनियनों ने हड़ताल की बात कही है।

इससे पहले, सरकार ने वर्ष 2019 में आईडीबीआई बैंक में अपनी बहुलांश हिस्सेदारी एलआईसी को बेचकर उसका निजीकरण कर चुकी है। साथ ही पिछले चार साल में सार्वजनिक क्षेत्र के 14 बैंकों का विलय किया गया है।

वेंकटचलम के अनुसार बैठक में यह कहा गया कि ये उपाय प्रतिगामी और कर्मचारियों के हितों के खिलाफ हैं इसलिए इसका विरोध करने की ज़रूरत है। ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कॉन्फेडरेशन (एआईबीओसी) के महासचिव सौम्य दत्ता ने कहा कि विचार-विमर्श के बाद सरकार के फैसले के खिलाफ 15 मार्च और 16 मार्च को दो दिन की हड़ताल का आह्वान करने का निर्णय किया गया।

यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) के सदस्यों में ऑल इंडिया बैंक एम्प्लॉयज़ एसोसिएशन, ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कॉन्फेडरेशन, नेशनल कॉन्फेडरेशन ऑफ बैंक एम्प्लॉयज़, ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन और बैंक एम्प्लॉयज़ कंफेडरेशन ऑफ इंडिया शामिल हैं। इसके अलावा इंडियन नेशनल बैंक एम्प्लॉयज़ फेडरेशन, इंडियन नेशनल बैंक ऑफिसर्स कांग्रेस, नेशनल ऑर्गनाइजेशन ऑफ बैंक वर्कर्स और नेशनल आर्गनाइजेशन ऑफ बैंक ऑफिसर्स शामिल हैं।

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र में सियासत गर्म: सरकार ने नहीं दी राज्यपाल को सरकारी विमान से जाने की इजाज़त

Exit mobile version