Home राष्ट्रीय महंगाई: पेट्रोल- डीजल के बाद महंगा हुआ प्याज, डेढ़ महीने में भाव...

महंगाई: पेट्रोल- डीजल के बाद महंगा हुआ प्याज, डेढ़ महीने में भाव हुआ दोगुना

महंगा हुआ प्याज
Image Courtesy: Business Today

देश में पेट्रोल और डीजल के बाद अब आम आदमी को अब प्याज के दाम रुलाने लग गए है। खुदरा बाजार में प्याज की कीमत 65 से 75 रुपये किलो तक पहुंच गई है। पिछले डेढ़ महीने में प्याज की कीमत लगभग दोगुनी हुई है। पिछले एक हफ्ते में इसके कीमतों में 14-15 रुपए की वृद्धि हुई है। वहीं एशिया की सबसे बड़ी प्याज मंडी लासलगांव में ही प्याज का भाव दो दिन में 1000 रुपए प्रति क्विंटल महंगा हो गया है।

मीडिया खबरों के मुताबिक लासलगांव मंडी में प्याज का औसत थोक भाव पिछले 2 दिनों में 970 रुपये प्रति क्विंटल बढ़कर 4200-4500 रुपये प्रति क्विंटल पहुंच गया है। नासिक के लासलगांव से देश भर में प्याज भेजा जाता है। कुछ समय पहले महाराष्ट्र में बेमौसम बरसात होने और ओले पड़ने की वजह से प्याज की फसल को काफी नुकसान हुआ है, जिसकी वजह से थोक मंडी में प्याज की आवक कम हो गई है और इसी वजह से प्याज महंगा हो गया है। इतना ही नहीं, डीजल की कीमतें बढ़ने से माल भाड़े में बढ़ोतरी हो गई है। इसकी वजह से तकरीबन हर वस्तु महंगी हो गई है।

एशिया की सबसे बड़ी फल-सब्जी मंडी आजादपुर मंडी समिति के अध्यक्ष आदिल अहमद खान बताते हैं कि सप्लाई में कमी के चलते प्याज के दाम बढ़ें हैं। इसके अलावा बारिश के चलते प्याज की आवक प्रभावित हुई है जिससे इसके भाव चढ़े हैं।

सरकार को उम्मीद है कि मार्च में बाजार में प्याज की आवक बढ़ जाएगी, इससे दम कम हो जाएगें। इस उम्मीद के बावजूद कई जानकार मानते हैं कि प्याज के दाम अभी और बढेगें। प्याज की महंगाई से फिलहाल राहत मिलने के आसार नहीं है। कारोबारी बताते हैं कि कम से कम 15 दिन और प्याज दाम गिरने के आसार नहीं है, क्योंकि रबी फसल मार्च में ही बाजार में उतरेगी।

ये भी पढ़ें- पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के विरोध में साइकिल से ऑफिस पहुंचे रॉबर्ट वाड्रा

Exit mobile version