Home मानव हित Ease Of Living India 2021: बेंगलुरू बना बेस्ट शहर, देखें टॉप 10...

Ease Of Living India 2021: बेंगलुरू बना बेस्ट शहर, देखें टॉप 10 की लिस्ट।

ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स रैंकिंग-2021
Image courtesy: Mint

केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने गुरूवार को ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स रैंकिंग-2021 जारी की। भारत में 10 लाख से अधिक की आबादी वाले शहरों में ईज ऑफ लिविंग के मामले में बेंगलुरु शहर टॉप पर है। इस सूची में पुणे दूसरे और अहमदाबाद तीसरे स्थान पर है।

ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स में 111 शहरों का सर्वे शामिल है। इनमें से 49 शहर 10 लाख से अधिक आबादी वाले हैं, जबकि 62 शहर 10 लाख से कम कम आबादी वाले हैं। यह सर्वे 19 जनवरी, 2020 से मार्च, 2020 के तहत किया गया। सर्वे में 32 लाख 20 हजार लोगों ने अपनी राय दी।
गुणवत्ता और विकास के काम के आधार पर इन शहरों की रैंकिंग को तय किया गया है। साथ ही यह भी देखा गया है कि इससे वहां के लोगों के जीवन पर क्या असर पड़ा है या पड़ रहा है। कैटगरी में उस शहर की शिक्षा का स्तर, स्वास्थ्य, आवास और आश्रय, साफ सफाई, ट्रांसपोर्ट सिस्टम, सुरक्षा व्यवस्था, आर्थिक विकास , पर्यावरण, हरित क्षेत्र, इमारतें, एनर्जी खपत जैसे कैटगरी की समीक्षा की गई।

केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पूरी ने ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स रैंकिंग-2020 रिपोर्ट को जारी किया और कहा भारत की आर्थिक ग्रोथ उसके शहरों के विकास से भी दिखती है। भारत इस वक्त दुनिया की सबसे तेजी से आगे बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। भारत में जिस तरह तेजी से शहरीकरण हो रहा है, उससे साफ है कि आने वाले तीस सालों में देश की 50 फीसदी आबादी शहरों में होगी।

10 लाख से अधिक आबादी वाले टॉप 10 शहर
बेंगलुरु, पुणे, अहमदाबाद, चेन्नई, सूरत, नवी मुंबई, कोयंबटूर, वडोदरा, इंदौर, ग्रेटर मुंबई
10 लाख से कम आबादी वाले टॉप 10 शहर
शिमला, भुवनेश्वर, सिलवासा, काकीनाडा, सालेम, वेल्लोर, गांधीनगर, गुरुग्राम, देवनागेर और तिरुचिपल्ली

बता दे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यकाल में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के साथ ही ईज ऑफ लिविंग को भी बेहतर करने पर जोर दिया है। ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स पहली बार 2018 में जारी किया गया था।

ये भी पढ़ें- कोरोना सर्टिफिकेट में पीएम मोदी की तस्वीर लगाने पर चुनाव आयोग पहुंची टीएमसी

Exit mobile version