Home अर्थव्यवस्था बजट 2021 है बेहद खास, हुए कई बड़े बदलाव, टूटी कई पुरानी...

बजट 2021 है बेहद खास, हुए कई बड़े बदलाव, टूटी कई पुरानी परंपरा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज संसद में 11 बजे बजट पेश करेंगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल में बजट पेश करने का यह तीसरा मौका होगा। बजट से हर वर्ग के लोगों को कुछ उम्मीदें होती हैं। लेकिन कोरोना महामारी की वजह से इस बार के बजट सत्र में कुछ बदलाव हुए है। यहीं नहीं टूटी कई बड़ी पुरानी परंपरा भी।

आजाद भारत का पहला बजट साल 1947 में पेश हुआ था। ऐसा पहली बार होगा, जब बजट की कॉपी की छपाई नहीं की जाएगी। आजादी के बाद पहली बार ऐसा होगावित्त मंत्रालय ने कोरोना की महामारी को देखते हुए बजट पेपर की छपाई नहीं करने का फैसला किया है। बजट 2021 की कॉपी संसद के सदस्यों को इलेक्ट्रॉनिक तरीके से बांटी जाएगी।

पहले एक चमड़े के ब्रीफकेस के साथ वित्त मंत्री संसद भवन पहुंचते थे। लेकिन निर्मला सीतारमण ने वित्त मंत्री के सदन में ब्रीफ़केस लेकर जाने की परंपरा को भी ख़त्म कर दिया था और वो उसकी जगह पिछले साल ‘बही-खाता’ लेकर गई थीं।

बता दें कि इस बार 29 जनवरी से संसद का बजट सत्र शुरू होगा। ये दो चरणों में होगा। पहले चरण की शुरुआत 29 जनवरी से होगी और ये 15 फरवरी तक चलेगा। वहीं दूसरा चरण 8 मार्च से शुरू होकर 8 अप्रैल तक चलेगा। इस दौरान कोरोना से जुड़े प्रोटोकॉल्स का खास ध्यान रखा जाएगा। कोरोना महामारी के चलते इस बार संसद का शीतकालीन सत्र भी नहीं आयोजित किया गया।

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exit mobile version