Home राष्ट्रीय अब व्हाट्सएप हुआ पुराना, सरकार ने लांच किया नया मैसेजिंग ऐप ‘संदेश’

अब व्हाट्सएप हुआ पुराना, सरकार ने लांच किया नया मैसेजिंग ऐप ‘संदेश’

govt. sandesh app
Image Courtesy: Puri Dunia

हाल ही में मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप की प्राइवेसी पर बहुत चर्चा हुई थी। इसको लेकर यूज़र्स व्हाट्सएप से पीछे हटने लगे हैं। इसी बीच मोदी सरकार ने लोगो की इस परेशानी का हल ढूंढ निकाला है। सरकार ने व्हाट्सएप का विकल्प खोज निकाला है। संदेश (Sandes) नाम के इस मैसेजिंग ऐप को लांच किया गया है।

फिलहाल संदेश टेस्टिंग फेज़ में है इसलिए इस ऐप को सरकारी कर्मचारी यूज़ कर रहे हैं। लेकिन जल्द ही इसे आम जनता के लिए लॉन्च कर दिया जाएगा। रिपोर्ट के मुताबिक यह ऐप एंड्रॉइड और आईओएस दोनों ही प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कराया जाएगा। दूसरे मैसेजिंग ऐप्स की तरह इसमे यूज़र्स मैसेज कर सकेंगे। यह ऐप भी वॉयस कॉलिंग सपोर्ट करता है। संदेश ऐप को नेशनल इनफॉर्मेटिक्स सेंटर मैनेज करेगा जो इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉर्मेशन टेक्नॉलजी मंत्रालय के अंदर आता है।

GIMS.gov.in की वेबसाइट पर संदेश ऐप का लोगो मौजूद है। इसमें तिरंगा और आशोक चक्र देखा जा सकता है। इस लोगो के तीन लेयर्स हैं। तीनों लेयर्स मिल कर तिरंगा बनाते हैं और बीच में अशोक चक्र है। दूसरा लेयर देखने में WhatsApp जैसा ही लग रहा है लेकिन ये गहरे हरे रंग का है।

बता दें कि पिछले पिछले कुछ सालों से डेटा चोरी को लेकर कई मामले सामने आए हैं। हालांकि केंद्र सरकार तमाम इंटरनेट कंपनियों को भारत में अपना सर्वर लगाने को कह रही है। लेकिन किसी भी इंटरनेट कंपनी ने अभी तक इस पर कोई ठोस फैसला नहीं लिया है। पिछले एक साल से केंद्र सरकार ने डेटा को लेकर गंभीरता दिखाना शुरू किया है।

हाल ही में, ट्विटर की भारत-विरोधी नीतियों के बाद स्वदेशी माइक्रोब्लॉगिंग स्टार्टअप ‘कू’ भी लोगों के बीच लोकप्रियता बटोर रही है। भारत सरकार का इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय भी अपने तमाम संगठनों के साथ ट्विटर छोडकर ‘कू’ का रुख कर चुका है। ‘कू’ Made in India ऐप है, जो ट्विटर के विकल्प के तौर पर अपनी भाषा में लोगों को अपने विचार व्यक्त करने की आजादी देगा।

ये भी पढ़ें-पीएम मोदी ने गिनाए नए कृषि कानूनों के लाभ, किसानों से पूछा सवाल

Exit mobile version